ओह, तो इसलिए शरीर के लिए जरूरी है कैल्शियम

फीचर्ड हेल्थ

आजकल दुनिया अपने निजी जीवन मे इतनी व्यस्त हो चुकी है कि उसे उसके लिए समय ही नहीं मिल पाता। ऐसे में कई बार हम बड़ी से बड़ी परेशानी को भी नज़रअंदाज़ कर जाते हैं। हड्डी और मांसपेशियों की परेशानी तो लगता है अब आम हो चुकी है।
इंसान के शरीर को सुचारू रूप से चलाने के लिए जिन पोषक तत्त्वों की आवश्यकता होती है उनमें से एक कैल्शियम भी है। कार्बन हाइड्रोजन और नाइट्रोजन की जरूरत जितनी शरीर को है उतनी ही जरूरत कैल्शियम की भी पड़ती है। कैल्शियम शरीर के लिए काफी उपयोगी है। इससे हड्डियां तो मजबूत होती ही है उसके साथ साथ उक्त रक्तचाप, डायबिटीज और कैंसर जैसे ख़तरनाक बीमारियों से हमारे शरीर को बचाता है।

बढ़ती उम्र में कैल्शियम

via

व्यक्ति के 30 वर्ष आयु हो जाने के बाद लगभग सभी हड्डियों का विकास पूर्णरूप से हो जाता है।
मगर यह बिलकुल न समझे कि इसके बाद हमें कैल्शियम की जरूरत नहीं पड़ती। क्योंकि सच तो यह है कि इसके बाद भी हमारे शरीर को कैल्शियम की जरूरत होती है।

 40 साल की उम्र में

via

40 साल गुजर जाने के बाद ज़्यादातर महिलाओं में मेनोपॉज़ की अवस्था आ जाती है इसका मतलब यह होता है कि इस उम्र में उन्हें 1500 मिलीग्राम कैल्शियम का प्रतिदिन सेवन करना चाहिए। क्योंकि इस उम्र में आते-आते हमारी हड्डियां काफी कमजोर हो जाती हैं। यही वजह है कि इस उम्र में आने के बाद घुटनों में दर्द, शरीर में दर्द की शिकायत अक्सर बनी रहती है।

कसरत भी करनी चाहिये

via

सिर्फ कैल्शियम ही नहीं खाएं बल्कि इसके साथ-साथ हमें नियमित रूप से एक्सरसाइज भी जरूर करना चाहिए।

कैल्शियम के स्रोत

via

दूध में कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है और उससे बनी हुई चीजों में भी कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है जैसे पनीर, दही, चीज आदि।

फॉस्फोरस

via

हमारे शरीर में कैल्शियम को पूरा करने के लिए और उसको पचाने के लिए फॉस्फोरस और विटामिन डी की भी जरूरत होती है। ज्यादातर सभी कैल्शियम वाले खाद्य पदार्थ में फॉस्फोरस पहले से ही मौजूद होता है इसलिए हमें अलग से कोई भी  फॉस्फोरस युक्त पदार्थ को खाने की जरूरत नहीं पड़ती है।

विटामिन ‘डी’

via

विटामिन ‘डी’ हमें ज्यादा से ज्यादा सूरज की रोशनी से मिलती है और रोजाना के दिनचर्या में संतुलित भोजन और पौष्टिक भोजन की पर्याप्त मात्रा में खाने से हमें कैल्शियम भी मिलता है।

ऐसे करें कैल्शियम की कमी को पूरा

via

कोशिश करें कि अगर आपको कैल्शियम की कमी है तो वह नैचुरल तरीके से पूरी हो। हालांकि कई लोग इस कमी को कैल्शियम टैबलेट्स के ज़रिये पूरा करने की कोशिश करते हैं, लेकिन इसके दुष्प्रभाव आपको बाद में देखने को मिल सकतें हैं।

THUMBNAIL RESOURCE 

Review Overview

Summary

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *