स्वरा भास्कर के ओपन लेटर पे पद्मावत के खिलजी ने दिया कुछ ऐसे जवाब

ट्रेंडिंग फीचर्ड

पद्मावत की रिलीज से पहले करणी सेना सुर्खियों में छाई हुई थी | लेकिन फिल्म की रिलीज के बाद एक्ट्रेस स्वरा भास्कर चर्चा में आ गई हैं | उन्होंने संजय लीला भंसाली पर जौहर सीन का महिमामंडन करने का आरोप लगाते हुए एक ओपन लेटर लिखा था | इस पर दीपिका, शाहिद के बाद रणवीर सिंह की प्रतिक्रिया सामने आई है |

via

एक इंटरव्यू में स्वरा भास्कर के आरोपों पर बोलते हुए उन्होंने अलग ही बयान दे डाला. एक्टर ने कहा, ”मुझे कल ही स्वरा की तरफ से एक मैसेज मिला था | उन्होंने फिल्म में मेरी एक्टिंग की तारीफ की थी. इसलिए….”

via

शाहिद ने नहीं पढ़ा स्वरा का लेटर :

via

रणवीर ने ऐसा जवाब देकर किसी कंट्रोवर्सी में पड़ने से बचने की कोशिश की है | इससे पहले शाहिद ने भी गोलमाल जवाब दिया था | उन्होंने कहा था, स्वरा के लेटर की मुझे जानकारी है | लेकिन ईमानदारी से कहूं तो मैंने इसे अभी तक पढ़ा नहीं है | ये काफी लंबा है. मैं इन दिनों काफी बिजी हूं | मुझे नहीं पता उन्हें क्या समस्या है | शायद संजय सर से जुड़ा कोई मसला है |

via

शाहिद ने कहा, मैं यह कहना चाहूंगा कि ये समय यह सब करने का नहीं है | पद्मावत पूरी इंडस्ट्री का प्रतिनिधित्व करती है | ये फ्रीडम ऑफ एक्सप्रेशन और फ्रीडम ऑफ स्पीच को भी रिप्रजेंट करती है | हम इस फिल्म को दर्शकों तक पहुंचाने के सफर में कठिन समय से गुजरे हैं | मुझे लगता है इस तरह ओपन लेटर लिखना काफी ‘घिनौना’ है | लेकिन हर व्यक्त‍ि को अपने विचार रखने और राय देने का अधिकार है | 3 दिन में शूट होना था पद्मावत का सबसे मुश्किल सीन, दीपिका ने 1 टेक में ही कर दिखाया|

स्वरा ने लगाया भंसाली पे आरोप :

via

बता दें, ओपन लेटर में स्वरा का कहना था, ‘भंसाली जी ने सती और जौहर प्रथा का महिमामंडन किया है | स्वरा फिल्म के जरिए स्त्रियों की पेश हुई छवि से बहुत नाराज हैं | महिलाएं चलती-फिरती वजाइना नहीं हैं | हां महिलाओं के पास यह अंग होता है लेकिन उनके पास और भी बहुत कुछ है | इसलिए लोगों की पूरी जिंदगी वजाइना पर केंद्रित, इस पर नियंत्रण करते हुए, इसकी हिफाजत करते हुए, इसकी पवित्रता बरकरार रखते हुए नहीं बीतनी चाहिए’ |

रासलीला के राइटर ने दिया कुछ ऐसा जवाब :

via

वहीं रासलीला के को-राइटर ने अपने लेटर में जवाब देते हुए सबसे पहले फेमिनिज्म की परिभाषा स्वरा भास्कर को समझाई | इसके बाद उन्होंने लिखा कि महिलाओं के पास वजाइना होती है. यह जीवन का रास्ता है क्योंकि वह जीवन दे सकती है | एक पुरुष लाख कोशिशों के बावजूद ऐसा नहीं कर सकता | ऐसे में दोनों जेंडर की समानता के सवाल का सही जवाब मिल जाता है | कई एक्टर्स, फिल्ममेकर और कलाकारों का लगता है कि वो आधुनिक सिनेमा में फेमिनिज्म की नई परिभाषा देते हुए लोगों को रास्ता दिखाएंगे |

Featured Image Courtesy

यह भी ज़रूर पढ़े : क्या आप भी खाते हैं 1 रूपए का पल्स, तो यह जान कर आपके भी होश उड़ जायेंगे

Tagged

Review Overview

Summary

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *