बनी हर महिला के लिए मिसाल, फाइटर प्लेन चला कर छुआ आसमान

फीचर्ड वीमेन

आजकल इस बदलते युग में महिलाये किसी भी छेत्र में पीछे नहीं हैं | हर जगह वह अपने नाम का पंचम लहरा रही हैं | एक वक़्त था जब लड़कियों को चार दीवारी में रखा जाता था लेकिन बदलते वक़्त के साथ उन्होंने यह साबित कर दिया की अगर लड़कियों को मौका दिया जाए तो वो सबसे आगे रहेंगी । शिक्षा हो या खेलकूद आज ऐसी कोई जगह नहीं जहां लड़कियां आगे ना हो और आज आज महिलाएं आसमान तक छू आयी ।

via

हां, यह सच है, इंडियन एयरफोर्स की फ्लाइंग ऑफिसर अवनी चतुर्वेदी ने फाइटर प्लेन मिग-21 ‘बाइसन’ उड़ाकर पहली महिला फाइटर पायलट बन गई हैं । उन्होंने गुजरात के जामनगर एयरबेस से उड़ान भरी और पहली बार में इसे पूरा करके एक नया इतिहास रचा ।

via

2016 के पहले भारतीय वासुसेना में महिलाओं को फाइटर प्लेन चलाने की इजाज़त नहीं थी लेकिन इस बात की इजाज़त मिलने के दो साल बाद ही अवनि ने पहली महिला फाइटर प्लेन पायलट बनने का ताज अपने नाम कर लिया ।

via

अवनि के साथ भावना कांत और मोहना सिंह भी 2016 से फाइटर प्लेन चलाने की ट्रेनिंग ले रहे हैं |

via

सिर्फ अवनि ही नहीं बल्कि उनके साथ भावना कांत और मोहना सिंह ने भी भारत का सर गर्व से ऊंचा कर दिया | तीनो को साथ में ही फाइटर प्लेन चलाने की ट्रेनिंग दी गयी थी |

via

शायद कुछ ही लोगो को ही पता होगा की कम ही देशो में महिलाओ को महिलाये फाइटर प्लेन चलाती हैं | शायद कुछ ही लोगो को ही पता होगा की कम ही देशो में महिलाओ को महिलाये फाइटर प्लेन चलाती हैं | दुनिया में अमेरिका, ब्रिटेन, इजरायल और पाकिस्तान में ही सिर्फ महिलाएं फाइटर पायलट बन सकती हैं।लेकिन साल 2015 में केंद्र सरकार ने महिलाओं को फाइटर पायलट में शामिल करने का फैसला किया ।

via

और इस फैसले के बाद अवनि ने फाइटर प्लेन मिग-21 ‘बाइसन’ उड़ाकर भारत देश का सर गर्व से ऊंचा कर दिया, क्योंकि दुनिया में सबसे ज्यादा लैंडिंग और टेक ऑफ स्पीड इसी फाइटर एयरक्राफ्ट की है । लेकिन अवनि ने दिखा दिया की महिलाएं आसमान तक छु सकती हैं और वक़्त आने पर वो हर क्षेत्र में अपनी जीत का झंडा लहरा सकती है ।

तो यह थी भारत की पहली फ्लाइंग ऑफिसर ” अवनि चतुर्वेदी ” | वैसे तो अवनि चतुर्वेदी सतना जिले से तालुख रखती हैं | और उनकी शिक्षा दीक्षा बनस्थली से हुई है |

via

अगर आपको हमारी स्टोरी पसंद आयी तो ज़रूर लाइक, शेयर और कमेंट करें |

यह आर्टिकल भी ज़रूर पढ़े :

क्या आप भी सेनेटरी नैपकिन और डायपर को कूड़ेदान में डालती है तो एक बार ज़रूर पढ़ लें ये

Featured Image Courtesy

 

Tagged

Review Overview

Summary

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *