यह हैं वह महिला जो जॉब के साथ दी कैट का एग्जाम और आ गयी टॉप 20 में

न्यूज़ फीचर्ड

मैनेजमेंट की फील्‍ड में करियर बनाने की इच्‍छा रखने वाले बच्‍चों का सबसे बड़ा सपना होता है कि कैट (कॉमन ऐडमिशन टेस्‍ट) के एग्‍जाम में अच्‍छा कट ऑफ आ जाए ताकि मन चाहे कॉलेज में उन्‍हें एडमिशन मिल जाए । इसके लिए साल भर बच्‍चे कोचिंग में महनत करते हैं मगर फिर भी अच्‍छे कटऑफ वही बच्‍चे ला पाते हैं जो स्‍मार्ट पढ़ाई करते हैं ।

via

ऐसी ही स्‍मार्ट तैयारी इस वर्ष दिल्‍ली के झंडेवालान इलाके की रहने वाली छवि गुप्‍ता ने की थी।छवि को इस तैयारी का नतीजा भी मिला और कैट- 2017 में 100 पर्सेंटाइल ला वह देश के टॉप 20 टॉपर्स में से एक बन गईं। खास बात तो यह है कि जहां बच्‍चे कैट की तैयारी करने के लिए स्‍कूल टाइम से ही कोचिंग ज्‍वाइन कर लेते हैं वहीं छवि ने नौकरी करते हुए इस एग्‍जाम की तैयारी करी और सफलता भी हासिल की ।

via

इस मुकाम तक पहुंचने के लिए छवि ने किस तरह से स्‍मार्ट प्रिपरेशन की इस बारे में पूछने पर उनहोने बताया, ‘ अगर मन लगा कर और डिटरमिनेशन के साथ किसी भी चीज को हसिल करने के लिए सोचा जाए तो उसमें 100 प्रतिशत सफलता मिलती ही है। मैं भी 7-8 महिने सब कुछ भूल कर केवल एक ही जगह फोकस सेट कर रही। मुझे कैट केवल क्रैक नहीं करना था बल्कि अच्‍छे पर्सेंटाइल भी लाने थे। मैंने यही सोच कर एग्‍जाम की तैयारी की थी।’

via

ऐसे की तैयारी :

via

छवि बताती हैं, ‘ मैं पेशे से इंजीनियर हूं और पढ़ना मुझे बचपन से ही बहुत अच्‍छा लगता है। मैंने पिछले वर्ष के रिजल्‍ट देखें तो टॉप 20 की लिस्‍ट में एक भी लड़की का नाम नहीं था। मगर सारे टॉपर्स इंजीनियर थे। तब ही मैने तय कर लिया था कि अगली बार ऐसा नहीं होगा। बस छवि की इसी सोच में ने उन्हें मेहनत करने को कहा और वह आ गयी टॉप 20 में | वो भी 100 परसेंटाइल के साथ |

उम्मीद नहीं था :

via

कैट का रिजल्ट देख वह खुद सरप्राइज़ रह गईं। छवि कहती हैं, मेरा पेपर काफी अच्छा हुआ था इसलिए यह तो मुझे पता था कि मेरी पर्सेंटाइल बहुत अच्‍छी आएगी। मुझे 99.9 पर्सेंटाइल की उम्मीद थी।

 

Tagged

Review Overview

Summary

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *